Zindagi Pe Shayari Hindi Me 21

Zindagi Pe Shayari : आज हम लेके आये है जिंदगी से जुडी शायरियां जो आपकी जिंदगी से जुड़े दर्द को बया करे. आप अपने दोस्तों, परिजनों के साथ वॉट्सऐप्प, फेसबुक पर शेर कर शकते हो.

Zindagi Pe Shayari | Zindagi Quotes

आखिर क्यों होती है ज़िंदगी से शिकायतें,
मौका तो मिला था, आजमाया ही नही तूने।

बड़े मजे से जी रहा था ज़िंदगी मे,
तूने आके उसमें आग ही लगादी।

बिछड़ गए है कुछ लोग ज़िंदगी से,
कभी मिले तो बताना अकेला हो गया हूँ मैं इंतेजार में उनके
Zindagi Pe Shayari

ये कोनसे दौर पे आ गई है ज़िंदगी,
जहाँ सब अपने ही रुस्वा हो गए है।
Zindagi Pe Shayari

ज़िंदगी में ऊपर उठना सीखों,
नीचे रहोगे तो कुचल दिए जाओगे।

दुआओं का कोई रंग नहीं होता,
लेकिन जब ये रंग लाती हैं,
तो ज़िंदगी रंगों से भर जाती है..!!

अबकी अगर
ज़िंदगी मिले
उसमें किसी का
इंतज़ार न हो_!!

ज़िंदगी में एक ही उसूल रखो
दोस्ती में गद्दारी नही और
गद्दारो से दोस्ती नहीं…

इश्क़ पाने की तमन्ना में,
कभी कभी ज़िंदगी,
खिलौना बन जाती है…
जिसे दिल में बसाना चाहते हैं,
वो सूरत सिर्फ याद बन जाती है….

गम तो लिखा सो लिखा
मेरी ज़िंदगी मे…
यू रात भर नींद ना आना
किस ज़ुर्म की सज़ा है…!!

ज़िंदगी पे शायरियां | ज़िंदगी कोट्स हिंदी में

ज़िंदगी रही तो हर दिन तुम्हे याद करते रहेंगे,
भूल गया तो समझ लेना भगवान ने हमें याद कर लिया…

मैं खुद के लिए क्या कहूं!
मुझे अधूरी सांसो से पूरी ज़िंदगी जीनी है!!

बिन धागे की सुई सी
बन गयी है ये ज़िंदगी
सीलती कुछ नहीं…
बस चुभती चली जा रही है

किस काम की रही ये दिखाबे की ज़िंदगी,
वादे किए किसी से गुजारी किसी के साथ.!!
Zindagi Pe Shayari

नफरत सी होने लगी है इस सफ़र से अब,
ज़िंदगी कहीं तो पहुँचा दे खत्म होने से पहले।

तमाशा ज़िंदगी का हुआ
कलाकार सब अपने निकले…!!

एक सपने की तरह सजा कर रखु
अपने इस दिल में हमेशा छुपा कर रखु
मेरी तक़दीर मेरे साथ नहीं वर्ना
ज़िंदगी भर के लिए उसे अपना बना कर रखु ।

ज़िंदगी तूने मुझे बहोत कम खुशियां दी हैं
जिसे भी मनाऊ वो मुझसे रूठ जाता हैं।

दोस्त तो बहुत मिलेंगे ज़िंदगी में,
मगर तेरी तो बात ही कुछ और है !
मोहतरमा..!

छोड़ ये बात कि मिले ज़ख़्म कहाँ से मुझको,
ज़िंदगी इतना बता कितना सफर बाकी है…!!

आप हमारे इंस्टाग्राम और फेसबुक अकाउंट पर भी फॉलो कर सकते हो…

Scroll to Top